स्टॉक मार्किट में Dividend क्या होता है ?

Dividend meaning in Hindi

दोस्तों यदि आपने कभी स्टॉक मार्किट में निवेश करने का सोचा है तो आपने dividend शब्द जरूर सुना होगा आखिर डिविडेंड क्या होता है और कैसे आप  स्टॉक मार्किट से डिविडेंड के जरिये भी पैसा कमा सकते है जिसमे आपको पैसे कमाने के लिए शेयर्स को बेचने की जरुरत नहीं पड़ती तो आज हम जानेगे की डिविडेंड क्या होता है ( Dividend meaning in Hindi ) आइये विस्तार में जानते है |

Dividend का मतलब क्या होता है ( Dividend meaning in Hindi ) ?

(Dividend meaning in Hindi) डिविडेंड का हिंदी में अर्थ होता है लाभांश मतलब की – लाभ का अंश  कंपनी को हुए मुनाफे का थोड़ा सा हिस्सा जो निवेशको को  दिया जाता है उसे  डिविडेंड या लाभांश  कहा  जाता  है |

स्टॉक मार्किट में Dividend क्या होता है ?

जब कंपनी अपने हुए मुनाफे में से सभी तरह के टैक्स और बाकी देनदारी हटा कर बचे हुए मुनाफे का कुछ हिस्सा अपने शेयरधारकों को देती है  तो उसे डिविडेंड/लाभांश कहा जाता है |

ये डिविडेंड सभी शेयरधारकों को उनके पास रखे हुए शेयर्स के हिसाब से दिया जाता है | मान लीजिये अगर TCS कंपनी ने 20 रुपये प्रति शेयर डिविडेंड देने का निर्णय लिया है और आपके  पास TCS  के 100 शेयर मौजूद  है तो आपको  :100*20 =2000 रुपये डिविडेंड प्राप्त होगा |

Dividend को कैसे Calculate किया जाता है ?

Dividend की गणना हमेशा कंपनी के Face Value के आधार पर ही की जाती है उसका कंपनी के मौजूदा share price कोई लेना देना नहीं होता | आइये जानते है Dividend की गणना कैसे  की जाती है –

मान लीजिये Infosys के Share price की मौजूदा कीमत 800 रूपये प्रति शेयर है लेकिन उसकी Face Value 10 रूपये प्रति शेयर है |

उस साल कंपनी अपने निवेशकों को 200% डिविडेंड देने का फैसला करती है तो वो 200% dividend की गणना face value के आधार पर ही की जायगी न की मौजूदा उस कंपनी के share price पर जिसका मतलब 10 रूपये प्रति शेयर Face Value के हिसाब से 200% यानी 20 रूपये प्रति शेयर डिविडेंड दिया जायगा |

 

Dividend कितने प्रकार के होते है –

स्टॉक मार्केट में कंपनी दो तरह से डिविडेंड देने की घोषण करती है- Interim Dividend और Final Dividend

  • Interim Dividend – कंपनी द्वारा जब फाइनेंसियल ईयर के भीतर ही quarterly डिविडेंड देने की घोषणा की जाती है तो उसे Interim Dividend कहा जाता है |
  • Final Dividend – कंपनी द्वारा जब फाइनेंसियल ईयर के अंत में Annual डिविडेंड देने की घोषणा की जाती है तो उसे Final Dividend कहा जाता है |

Dividend का पैसा किस Account में आता है ?

डिविडेंड का पैसा आपके उस अकाउंट में आता है जो अकाउंट आपके डीमैट अकाउंट से लिंक्ड होता है | जरूर पढ़े अगर आपको नहीं पता डीमैट अकाउंट क्या होता है ?

मान लीजिए कि मेरे पास PNB का सेविंग अकाउंट है और जो की मेरे डीमैट अकाउंट से Linked है तो जब भी कंपनी डिविडेंड देने का निर्णय करेगी  तो वह डिविडेंड का पैसा सीधे मेरे PNB सेविंग अकाउंट में आ जाएगा |

 

क्या स्टॉक मार्किट में सभी कंपनिया Dividend देती है ?

किसी कंपनी का डिविडेंड देना उस कंपनी के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स पर निर्भर करता है की वह डिविडेंड देना चाहती है की नहीं यह डायरेक्टर्स अपनी Annual General Meeting (AGM) मीटिंग में  ये फैसला लेते है |

जरुरी नहीं है कि कोई कंपनी बड़ी है या अच्छा लाभ कमाती है तो वो डिविडेंड  जरूर देगी या फिर जो कंपनी आज डिविडेंड देर ही है वह आगे भी डिविडेंड देगी जैसा की मैंने पहले ही आपको बताया उस कंपनी के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स द्वारा निर्णय  लिया जाता है की डिविडेंड देना है की नहीं |

ज्यादातर मौके पर छोटी कम्पनिया डिविडेंड नहीं देती अपितु वह पैसा कंपनी के विस्तार और अपने बिज़नेस को आगे बढ़ाने में लगा देती है  जिससे कंपनी के शेयर्स  के भाव  में बढ़ोतरी  होती है और निवेशकों को बढ़ते हुए  शेयर्स के भाव से फायदा होता है |

Note: यदि आप किसी कंपनी का डिविडेंड चेक करना चाहते है तो दिए हुए लिंक Money Control की वेबसाइट पर से चेक कर सकते है |

Dividend के निवेशकों को फायदे

डिविडेंड के फायदे इस प्रकार है –

  • डिविडेंड आय का नियमित स्रोत हैं |
  • कंपनी के डिविडेंड पर निवेशक को कोई टैक्स नहीं देना पड़ता | इसलिए इसे  Tax Free Income भी कहा जाता है |
  • किसी भी निवेशक के लिए डिविडेंड एक Passive Income की तरह है जिसमे आपको कुछ नहीं करना पड़ता |
  • कंपनी जो भी डिविडेंड देती है उस पर शेयर भाव का कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि कंपनी Face Value के आधार पर डिविडेंड देती  है |

 

Dividend Yield क्या होता है ?

Dividend Yield एक Financial ratio है जिसके अनुपात से हमे यह पता चलता है कि मौजूदा बाजार मूल्य पर निवेशकों को अपने किये हुए निवेश पर कितना dividend मिल रहा है ।

Dividend Yield की गणना करने के लिए आपको कंपनी  के डिविडेंड को कंपनी  के मौजूदा बाजार मूल्य से भाग करना पड़ता है  और इसकी गणना भी face value के आधार पर ही की जाती है |

जैसा की हमने बताया डिविडेंड की गणना कैसे की जाती है तो अगर इनफ़ोसिस का डिविडेंड 20 % रूपये प्रति शेयर है और उसका मौजूदा बाजार मूल्य 1000 रूपये तो उसका dividend yield (20/1000)*100 =2%  होगा  |

Dividend के लिए महत्वपूर्ण तिथियां

जब भी किसी कंपनी द्वारा डिविडेंड देने की घोषणा की जाती है तो शरहोल्डर्स को तुरंत डिविडेंड नहीं मिलता डिविडेंड की घोषणा और उसके भुक्तान के बिच कई (Dates) तिथियां आती है जो इस प्रकार है –

  • Dividend Declaration Date : यह वह Date होती है जिस Date में कंपनी डिविडंड देने की घोषणा अपने शेयरधारकों को देती है।
  • Ex-Dividend date : यह वो date होती जो की डिविडेंड पाने की last date होती है  मतलब की अगर किसी निवेशक ने last date से पहले कंपनी का शेयर खरीदा था तभी उसको  को डिविडंड मिलेगा last date के बाद शेयर खरीदने वाले शेयरधारकों को डिविडंड नहीं मिलता |
  • Record Date : इस दिन कंपनी अपने Record Book में देखती है की उसके शेयर किन किन लोगो के पास है फिर उनको ही डिविडंड दिया जाता है
  • Dividend Payout Date : वास्तव में इसी date को शेयर धारको को कंपनी द्वारा डिविडंड दिया जाता है।

 

Conclusion

दोस्तों आज हमने जाना डिविडेंड क्या होता है (Dividend meaning in Hindi) बाज़ार में जो कंपनी डिविडेंड देती  है उनसे निवेशकों को फायदा होता ही है लेकिन  यदि कोई कंपनी डिविडेंड नहीं देती और वह पैसा अपने बिज़नेस को आगे बढ़ाने नए Services ,नए Products ,नया बिज़नेस शुरू करने के लिए करती है तब  भी निवेशको को ही इसका फ़ायदा होता है |

क्योंकि अगर वह पैसा कंपनी की Growth में लगता है और कंपनी की Growth होती है तो जाहिर है उस कम्पनी के शेयर के दाम भी बढ़ेंगे तो जब निवेशकों के शेयर के दाम बढ़ेंगे तब भी निवेशकों को ही फायदा होगा |

आशा है आपको यह पोस्ट अच्छी लगी होगी अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमे कमेंट कर सकते है |

 

Yogesh Singh

नमस्कार दोस्तों, मैं Yogesh , Investmantra (इंवेस्टमंत्रा ) का Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Computer Graduate हूँ. मुझे Finance से सम्बंधित नयी नयी चीज़ों को सिखने के साथ साथ भारत सरकार की विभिन्न योजनाओ के बारे में दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरा 'उद्देश्य' है की भारत के प्रत्येक नागरिक को finance की knowledge होनी चाहिए |

View all posts by Yogesh Singh →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *