स्टॉक मार्किट में EPS क्या होता है और इसकी गणना कैसे की जाती है ?

EPS full form

हैलो दोस्तों Investmantra में आपका स्वागत है | दोस्तों अक्सर हम EPS के बारे में सुनते है की एक निवेशक को इसके बारे में जरूर पता होना चाहिए तो आज हम जानेगे की EPS आखिर होता क्या है और EPS full form क्या है ? एक निवेशक को इसके बारे में क्यों जरुरी पता होना है और अगर आप इसको कैलकुलेट करना चाहते है तो आप EPS कैसे calculate कर सकते है |

EPS क्या होता है ? EPS Full form

दोस्तों EPS किसी भी कंपनी के आंकलन करने में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है अगर हम कहे की स्टॉक मार्किट में निवेश करने के लिए आपको कंपनी का ईपीएस जरूर देखना चाहिए तो कुछ गलत नहीं होगा |

EPS full form होता  है (अर्निंग प्रति शेयर) Earning per share जिसको हिंदी में समझे तो इसका मतलब होता है प्रति शेयर आय |

अगर हम सामान्य शब्दो में कहे तो ईपीएस का संबंध प्रति शेयर होने वाली आमदनी से है | EPS की गणना करना बेहद आसान है और आप इसे कैसे calculate कर सकते है यह हम आगे जानेंगे |

EPS को कैसे कैलकुलेट किया जाता है ?

EPS का calculation करना बेहद आसान है आप आसानी से इसकी गणना कर सकते है आपको बस कंपनी के हुए शुद्ध लाभ को कंपनी के कुल शेयर्स से विभाजित करना है |

Earning per share = कुल लाभ ÷ कुल शेरों की संख्या

उदाहरण:-

मान लीजिये कोई कंपनी है जिसके मार्किट में 1 लाख शेयर्स है और उसको तिमाही 50 लाख का profit हुआ तो उस कंपनी का eps 50 रूपये होगा |

Conclusion

दोस्तों आज हमने सीखा की eps क्या होता है और eps full form क्या है ? दोस्तों यदि आपका पोस्ट से संब्धित कोई सवाल या सुझाव है तो हमे कमेन्ट करके जरूर बताये हम जल्द से जल्द आपके सवालों के जवाब और सुझावों पर अमल करने की कोशिश करेंगे |

 

Yogesh Singh

नमस्कार दोस्तों, मैं Yogesh , Investmantra (इंवेस्टमंत्रा ) का Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Computer Graduate हूँ. मुझे Finance से सम्बंधित नयी नयी चीज़ों को सिखने के साथ साथ भारत सरकार की विभिन्न योजनाओ के बारे में दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरा 'उद्देश्य' है की भारत के प्रत्येक नागरिक को finance की knowledge होनी चाहिए |

View all posts by Yogesh Singh →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *