Nav क्या है ( Nav Meaning in Hindi) – इसकी गणना कैसे की जाती है ?

nav meaning in hindi

(nav meaning in hindi) आज हम जानेंगे की म्यूच्यूअल फण्ड के खरीदने का मूल्य कैसे बनता है और इसकी गणना कैसे की जाती है दोस्तों  म्यूच्यूअल फण्ड का भाव जानने  से  पहले आपको NAV  को समझना  होगा  क्योंकि इसी के माध्यम से आप म्यूच्यूअल फण्ड के खरीदेने तथा बेचने का भाव जान सकते है और अपने किये हुए निवेश का वर्तमान भाव भी आप जान सकते है | आइये विस्तार में जानते है |

NAV क्या है (Nav Meaning in Hindi)?

NAV का मतलब Net Asset Value है | यह म्यूचुअल फंड की 1 unit की कीमत होती है । एक निवेशक म्यूचुअल फंड की एक unit को खरीदने या बेचने के लिए इस मूल्य का उपयोग करता है। इसकी गणना बाजार के बंद हो जाने के बाद उस दिन के अंत में की जाती है |

Mutual Funds में Units क्या है ?

जैसे कि शेयर बाजार में कम्पनीयो के ownership को शेयर्स में बांटा जाता है ताकि लोग इसमें निवेश कर सके और इसका भाव देखकर अपने निवेश का मूल्यांकन और व्यापार कर सके |

ठीक उसी प्रकार म्यूच्यूअल फण्ड को भी  छोटे-छोटे हिस्सों में बांट दिया जाता है जो की Mutual Fund Units कहलाता है ताकि आम निवेशक भी उसमे निवेश कर सके और उसकी गणना के आधार पर अपने निवेश का मूल्यांकन कर सके |

मान लीजिये किसी म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी ने लोगो के द्वारा फण्ड में लगाने के लिए 100 करोड़  अपने पास जमा किये है अब वह  म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी शेयर बाजार में उन पैसो को निवेश करना चाहेगी |

तो म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी ने उन 100 करोड़ में से 90 करोड़ को  निवेश में लगा दिया बाकी बचे हुए 10 करोड़ को  उन्होंने फण्ड चलाने का खर्च और फण्ड मैनेजर के वेतन  मानकर  कर अपने पास लिया और   पूरे फण्ड को 1 करोड़ Units में बाट दिया | जिससे अब निवेशक NAV के मूलय पर उस fund की units को खरीद व बेच सकते है |

इसकी गणना कैसे की जाती है?

जैसा की हमने ऊपर दिए गए उदहारण में बताया एक म्यूच्यूअल फण्ड चलाने का खर्च 90 करोड़ है और उस म्यूच्यूअल फण्ड के  1 करोड़ Units है तो 1 यूनिट की कीमत  कितने हुई ? जाहिर है Rs 90 हुई |

NAV की गणना करना काफी आसान है  आइये विस्तार में समझते है –

NAV की गणना करने के लिए हमे म्यूच्यूअल फण्ड में कुछ financial terms को समझना होगा और वह है Assets और Liabilities

  1. Assets   – म्यूच्यूअल फण्ड में Asset का मतलब है फण्ड में हुए निवेश की आज ( जिस दिन का NAV निकालना है) की मार्केट वैल्यू  |
  2. Liabilities  – म्यूच्यूअल फण्ड में Liabilities  का मतलब है फण्ड को चलाने का एक दिन का खर्चा तथा फण्ड मैनेजर का एक दिन का वेतन |
  3. Total number of units– उस  म्यूचुअल फंड की Units की कुल संख्या |
NAV = (Assets – Liabilities) / Total no of mutual fund units

 

Nav की गणना करने के लिए हमे उस दिन के म्यूच्यूअल फण्ड के स्टॉक्स ,बांड्स,डिपाजिट इत्यादि की कीमत  को उस दिन आये म्यूच्यूअल फण्ड के ख़र्च से घटाना पड़ता है और उससे आये Amount को उस म्यूच्यूअल फंड्स की कुल Units से divide करना पड़ता है |

 

अभी आपका निवेश कितने मूल्य का है?

यह जाना बेहद आसान है बस आपके पास जो म्यूच्यूअल फण्ड है आप उसकी NAV पता कर लें फिर आपके पास  जितने भी Units है उसको उस  म्यूच्यूअल फण्ड की NAV से गुना कर दे अब आपके सामने जो राशि आएगी वह आपके निवेश का मूल्य  है | इस मूल्य  के आधार पर  आप अपना मुनाफा या नुक्सान दोनों देख सकते है |

उदहारण के लिए मान लीजिये आपने जो म्यूच्यूअल फण्ड खरीदा था उसकी अब Nav Rs 50 per Unit हो गयी है और आपके पास उस फण्ड के 100 units मौजूद है  तो अभी आपके निवेश का मुलय  Rs 50(NAV) * 100 units( इकाइयों की कुल संख्या )= Rs 5000 का है |

 

Conclusion

दोस्तों आज हमे जाना की म्यूच्यूअल फण्ड NAV क्या होता है (Nav Meaning in Hindi)? और उन निवेशक के लिए यह  जानना क्यों जरुरी होती है जो म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश करते है दोस्तों किसी भी  फण्ड में  सिर्फ NAV को देखकर  ही निवेश न करे उस म्यूच्यूअल फण्ड की Past Performance और फण्ड मैनेजर के बारे में पहले जान ले ताकि आपको पता हो की आप कहाँ  निवेश  कर रहे |

आशा है आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी होगी और यदि आपका कोई सुझाव या सवाल है तो आप हमे कमेंट कर सकते है |

Yogesh Singh

नमस्कार दोस्तों, मैं Yogesh , Investmantra (इंवेस्टमंत्रा ) का Author & Founder हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Computer Graduate हूँ. मुझे Finance से सम्बंधित नयी नयी चीज़ों को सिखने के साथ साथ भारत सरकार की विभिन्न योजनाओ के बारे में दूसरों को सिखाने में बड़ा मज़ा आता है. मेरा 'उद्देश्य' है की भारत के प्रत्येक नागरिक को finance की knowledge होनी चाहिए |

View all posts by Yogesh Singh →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *